How to Increase Sperm Count And Motility Fast शुक्राणुओं की संख्या और गतिशीलता कैसे बढ़ाएं


How to Increase  Sperm Countपुरुषों मे प्रजनन की क्षमता का जाँच करते समय शुक्राणुओं की संख्या, स्वास्थ्य और गतिशीलता का जाँच किया जाता है। शुक्राणुओं की गतिशीलता और क्षमता योनि मार्ग और अंडाशय के माध्यम से अंडे तक पहुंचने और इसे निषेचित (Fertilized) करने के लिए आगे बढ़ने की क्षमता को संदर्भित करता है। जब शुक्राणुओं की संख्या कम होती है, तो अंडे तक पहुंचने में विफल होते हैं। घरेलू उपचार करके शुक्राणुओं की गतिशीलता को बढ़ाकर पुरुष प्रजनन क्षमता को सामान्य स्तर पर लाया जा सकता हैं।

शुक्राणओं की गतिशीलता और पुरुषों मे प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए सर्वोत्तम उपाय Best Ways to Boost Male Fertility and Improve Sperm Motility

पुरुषों में शुक्राणुओं की गतिशीलता बढ़ाने के लिए कुछ तरीके निम्नलिखित हैं।

1. आहार में सुधार Improvement In Diet

हम सभी जानता है कि संतुलित आहार लेने से हमारे स्वास्थ्य संबंधी समस्यायें ठीक रहती है। लेकिन कम लोग ही इस सिद्धांत का पालन करते है। जिस तरह कुछ खाद्य पदार्थ हृदय या मधुमेह जैसी समस्याओं मे लाभकारी हैं, उसी तरह शुक्राणुओं की गतिशीलता को बढ़ाने के लिए कुछ विशेष खाद्य पदार्थ हैं।

इन खाद्य पदार्थों में अधिकांश ऐसे हैं जिनमें बहुत से एंटीऑक्सिडेंट होते हैं। इनमें से मुख्य रूप से अखरोट, गाजर, अंडे, पालक, केले, ब्रोकोली और अनार है। प्रोसेस्ड मीट मत खायें क्योंकि यह स्पर्म काउंट को कम करता है।

2. व्यायाम करें और स्वस्थ रहें Do Exercise And Be Healthy

जिस प्रकार खाद्य पदार्थ और फल शुक्राणुओं की गतिशीलता को बढ़ाने मे मदद करते है, उसी प्रकार उन्हें मजबूत रखने के लिए नियमित व्यायाम करना जरुरी है। टेस्टोस्टेरोन व्यायाम के दौरान उत्पन्न होता है और अधिक ऊर्जावान और शक्तिशाली महसूस कराता है। प्रति दिन नियमित व्यायाम करने से स्पर्म काउंट बढ़ता है।

शुक्राणुओं की संख्या और शुक्राणुओं की गतिशीलता में कमी होने से वो आदमी शर्म महसूस कर सकता है। लेकिन चिंता करने का बात नहीं है क्योंकि संतुलित आहार और अपना जीवन शैली में बदलाव लाकर स्वाभाविक रूप से शुक्राणुओं की संख्या और गतिशीलता को बढ़ा सकते हैं।

3. इलेक्ट्रॉनिक्स का उपयोग शुक्राणुओं के लिए अच्छा नहीं है Use of electronics is not good for sperms

युवा आबादी का एक बड़ा हिस्सा इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का प्रयोग करता है। स्मार्टफोन रखना एक आम बात हो गया हैं और बहुत से लोग अपने फोन को पैंट के जेब में रखते है। जो अंडाशय के करीब होता है। इसी तरह लैपटॉप का उपयोग लंबे सगय तक गोद में रखकर किया जाता है। डिवाइस से उत्सर्जित विभिन्न विकिरण अप्रत्यक्ष रूप से शुक्राणुओं को प्रभावित कर सकते हैं। अपने लैपटॉप को चालू करके ज्यादा समय तक अपने गोद मे नही रखना चाहिए। इसके लिए डेस्क का इस्तेमाल करना चाहिए। अपने मोबाइल फोन को अपने अंडाशय के समीप जेब मे नहीं रखना चाहिए।

4. धूम्रपान छोड़ दें Quit Smoking

धूम्रपान का हमारे शरीर पर कई तरह का प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। धूम्रपान से शुक्राणुओं के संख्या और उनके स्वास्थ्य पर सीधा प्रभाव पड़ता है। अनुसंधान से साबित हो चुका है कि धूम्रपान बंद करने के बाद शुक्राणुओं के स्वास्थ्य में तेजी से सुधार होना शुरू हो जाता है।

5. शराब का कम सेवन करें Drink Less Alcohol

इन दिनों शराब पीना फैसन बन गया है। जिस कारण पुरुषों ने पहले की तुलना में बहुत अधिक शराब का सेवन करना शुरू कर दिया है। रोज शराब पीने से शुक्राणुओं का विकास प्रभावित हो सकता है।

अध्ययनों से पता चला है कि यदि कोई सप्ताह में 5 दिन शराब पीता है तो शुक्राणु की गतिशीलता कम होना शुरू हो जाता है। कम शराब पीने से शुक्राणु बेहतर होंगे।

6. रसायनिक उत्पाद और प्लास्टिक के बर्तनों का प्रयोग ना करें Do not use chemical products and plastic Cookware

रसायनिक उत्पादों और प्लास्टिक से बने बर्तनों का उपयोग ना करें। क्योंकि प्लास्टिक के बर्तनों में मौजूद कुछ रसायन ऐसे है जो शुक्राणओं की गतिशीलता को कम करते हैं। शुक्राणओं के गतिशीलता को बढ़ाने के लिए जैविक फलों का चुनाव करना लाभकारी होता है।

7. स्पर्म लाइक थिंग्स टू बी कूल Sperms Like Things to Be Cool

हमारा शरीर तापमान का नियामक है। अंडकोष शरीर के बाहर स्थित हैं इसलिए आसपास के तापमान का असर हमारे अंडकोष पर पड़ता है। अच्छे शुक्राणु का उत्पादन तब देखा गया है जब अंडकोष शरीर से कुछ डिग्री ज्यादा ठंडा रहता है। यदि आप तंग अंडरवियर या फिटिंग पैंट पहनते हैं जो आपके अंडाशय को तंग रखता है। तो यह शुक्राणुओं के जीवन में बाधा डाल सकता है। गर्म बाथटब में अधिक समय तक नही रहना चाहिए । लंबे समय तक अपने जांघो या गोद मे गर्म लैपटॉप नही रखना चाहिए।

ढीले और आरामदायक पैंट पहनने की कोशिश करें। खासकर जब आप घर पर रहे। अंडाशय ठंडा रखना लाभकारी होगा।

8. अच्छी नींद लें Take Good Sleep

अध्ययनों से पता चला है कि जो पुरुष रात का नींद 8 घंटे या उससे अधिक लेता है। उस व्यक्ति का शुक्राणु अच्छे होने की अधिक संभावना होती है ।

पुरुषों के शरीर में, टेस्टोस्टेरोन का उत्पादन नींद के दौरान रैंप करता है और शुक्राणु उत्पादन को बढ़ाता है। अच्छी नींद लेने से टेस्टोस्टेरोन का स्तर लगभग 15% तक बढ़ता है, जो शुक्राणुओं के स्वास्थ्य को प्रभावित करता है।

शुक्राणुओं की संख्या और गतिशीलता प्राकृतिक रूप से बढ़ाने के लिए जड़ी बूटीयां Natural Herbs For improve sperm count And Motility naturally

Shukra Shakti एक प्राकृतिक और हर्बल दवा है जो बिना किसी दुष्प्रभाव के प्राकृतिक रूप से शुक्राणुओं की संख्या और गतिशीलता बढ़ाने में मदद करता है। यह पुरुषों मे बांझपन के उपचार के लिए एक उपयोगी है। अधिक जानकारी के लिए Click करें।

Related Products
Leave a Reply

Name

Email:

Website:

Comment: